Vaastu

🌺सहस्र-महावास्तू🌺
*डॉ नरेंद्र सहस्रबुध्दे * ९८२२०११०५०
१. इस भवनमें वायव्य कट है -इसका अर्थ इस भवनमें अतिबल वायूतत्व है ।
२. आग्नेय प्रवेश होनेसे अग्नितत्व असंतुलित है ।
३. ऐसी स्थितीमें प्रबल लायी तथा प्रखर अग्नीका द्वंद भवनकी सुख शांतीका भंग करता है ।
🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏

Popular posts from this blog

Ratnadhyay

Shikhi Devta